Monday , December 5 2016
loading...

जाने पुरुषों के लिंग का सामान्य आकर क्या है: Average Penis Size in Hindi

पुरुष लिंग

यह काफी बहस का विषय है कि एक पुरुष जननांग (लिंग) (penis) का आकार क्या होना चाहिए। पुरुषों के लिंग का सामान्य आकार निर्धारित करने के लिए कई वैज्ञानिक शोध चल रहे हैं। ज़्यादातर मर्दों को इस बात की चिंता होती है कि उनके लिंग का आकार सामान्य से कम है। परन्तु यह सिर्फ उनका वहम होता है। असल में मर्द इस बात को लेकर चिंतित रहते हैं कि लिंग (penis) का आकार सही ना होने की वजह से वे अपने साथी को पूरी तरह संतुष्ट नहीं कर पाएंगे। उन्हें लगता है कि इससे उनकी सेक्स लाइफ पर खराब असर पड़ेगा। लेकिन यह एक घबराहट मात्र है और चिंता की कोई बात नहीं है, क्योंकि ज़्यादातर समय मर्दों के पुरुष जननांग (लिंग) का आकार सही होता है।

पुरुषों का गुप्तांग एक प्रजनन अंग (reproductive sexual organ) है, जिसका प्रयोग हम मूत्र विसर्जित करने के लिए भी करते हैं। गुप्तांगों का मुख्य भाग होते हैं जड़, शरीर, शाफ़्ट की त्वचा (shaft skin) और ऊपर की त्वचा। गुप्तांग का आकार अलग अलग समय भिन्न रहता है, क्योंकि इसका आकार दिन के समय, कमरे के तापमान, उत्तेजित होने के समय तथा सेक्स (sex) करने पर निर्भर करता है। गुप्तांगों की बढ़त बचपन से लेकर पांच साल की उम्र तक होती है, और फिर प्यूबर्टी (puberty) के एक साल पहले, जो कि 12 से लेकर 17 वर्ष की उम्र तक चलती है।

नीचे कुछ तथ्य दिए गए हैं जिनसे आपको मर्दों के लिंग के सामान्य आकार का एक अंदाज़ा हो जाएगा।

  • ज़्यादातर मामलों में महिलाओं को पुरुषों के गुप्तांगों के आकार के सम्बन्ध में कोई चिंता नहीं होती। वे तो इस बात से बिलकुल अनजान रहती हैं। मर्द ही अपने लिंग (penis) की लम्बाई और मोटाई को लेकर अतिरिक्त चिंता में रहते हैं।
  • 45 प्रतिशत से ज़्यादा लोगों के लिंग (penis) छोटे होते हैं। यही आकार मर्दों में गुप्तांग का सही आकार माना जाता है और इससे मर्दों की सेक्स लाइफ का कोई लेना देना नहीं होता।
  • कई शोधों से यह साबित हुआ है कि ज़्यादातर लोगों के लिंग की लम्बाई 7 से 10 सेंटीमीटर तक होती है और यही पुरुषों के गुप्तांग की आदर्श लम्बाई मानी जाती है।
  • सेक्स के दौरान पुरुषों का लिंग (penis) बड़ा होकर 12 से 16 सेंटीमीटर तक हो सकता है और इसकी मोटाई करीब 12 सेंटीमीटर की होती है।

लिंग के आकार का वैज्ञानिक महत्त्व (The scientific importance regarding the size of the pennies)

आप कई लोगों को डॉक्टर से लिंग का आकार पूछता हुआ पाएंगे। उन्हें इसके सही आकार के बारे में चिंता होती रहती है। यही आम धारणा भी है। डॉक्टरों का यह मानना है कि लिंग के गलत आकार से आपको दैनिक जीवन में कई समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। ऐसे कई व्यक्ति हैं किनकी 40 वर्ष की उम्र हो जाने पर भी शादी नहीं हुई है, क्योंकि उन्हें लगता है कि उनके लिंग का आकार सही नहीं है और इससे वे अपनी साथी को संतुष्ट नहीं कर पाएंगे। कई डॉक्टर इस असंतुष्टि का फायदा उठाते हैं और लिंग के आकार का मुद्दा उठाते हैं। वे मर्दों में दिमाग में ये बात भरते हैं कि शल्य क्रिया (surgery) से उनके लिंग का आकार बिलकुल सही हो जाएगा। यह सब हड्डियों की उलझन की वजह से होता है, जिससे लिंग की हड्डियों के आकार में असमानता आ जाती है।

मर्दों के लिंग का औसत आकार (What is the average penis size?)

हर व्यक्ति के लिंग का आकार अलग होता है। कुछ शोधों के अनुसार लिंग की सामान्य लम्बाई 3.5 इंच तथा कामोत्तेजना के दौरान इरेक्ट (erect) होने पर 5.1 इंच होती है। एक ताज़े शोध से यह पता चला है कि एक इरेक्ट लिंग की औसत लम्बाई 5.6 इंच और इसकी मोटाई 4.8 इंच होती है। लिंग का आकार चाहे जो भी हो, पर यह उस व्यक्ति के लिए सामान्य होना चाहिए। कई लोगों की यह धारणा होती है कि व्यक्ति जितना लम्बा होता है उसका लिंग उतना बड़ा होता है। यह बात सही नहीं है। विभिन्न ऊंचाई के लोगों के लिंग की लम्बाई अलग अलग देखी गयी है। 2.5 इंच का सबसे छोटा गुप्तांग एक अच्छे खासे बड़े व्यक्ति की देखी गयी है। वहीँ एक छोटे तथा दुबले पतले व्यक्ति के लिंग की लम्बाई 5.5 इंच भी देखी गयी है। मनुष्य की लम्बाई से उसके लिंग का कोई लेना देना नहीं होता।

लिंग का छोटा आकार (Small penis size)

लिंग का छोटा आकार सिर्फ आपकी धारणा मात्र है। जो लोग छोटे लिंग की शिकायत करते हैं, उन्हें इरेक्टाइल डिस्फंक्शन (erectile dysfunction) की समस्या भी हो सकती है। जब एक व्यक्ति ऊपर से अपने लिंग को देखता है तो यह उसे छोटा दिखता है। यह पूर्वाभास (foreshadowing) का नतीजा होता है। पेट की मोटाई से भी आपका लिंग छोटा प्रतीत हो सकता है। छोटे आकार का लिंग इरेक्ट होने पर 100 % तक लंबा हो जाता है, वहीँ एक लंबा लिंग इरेक्ट होने पर 75 % तक लंबा होता है।

महिलाएं और लिंग का आकार (Size of Penis and Women)

महिलाओं को लिंग के आकार से कोई फर्क नहीं पड़ता। एक महिला को सेक्स में आनंद के लिए लिंग की लम्बाई की बजाय उसकी चौड़ाई ज़्यादा आकर्षित करती है। वे सेक्स की असल क्रिया (penetration), स्वछन्द भाव से एक दूसरे का हस्तमैथून (mutual masturbation) और मुखमैथून (oral sex) से ज़्यादा संतुष्ट तथा प्रसन्न होती हैं। एक महिला का लिंग किसी भी आकार के पुरुष लिंग को अपने अन्दर समाने की काबिलियत रखता है। कामोत्तेजना के समय वेजाइना (vagina) की लम्बाई करीब 4 इंच तक बढ़ जाती है, और अगर आप इसके अंदर अपना लिंग धीरे धीरे प्रवेश कराएं, तो इसकी लम्बाई और भी ज़्यादा बढ़ती जाती है। अतः किसी भी आकार का लिंग एक महिला को काफी संतुष्टि प्रदान करता है।

क्या लिंग के आकार को बढ़ाया जा सकता है ? (Can the Size of penis be increased?)

ऐसी कोई क्रीम (creams), दवाइयाँ या व्यायाम नहीं है जो आपके गुप्तांग के आकार में वृद्धि कर सकें। अगर आपके लिंग की कुल लम्बाई इरेक्ट होने पर भी मात्र 3 इंच ही रहती है, तब आपको सर्जरी (surgery) की आवश्यकता है।

लिंग के आकार को ले कर मिथ्य – (The myth about the size of the penis)

पोर्न फिल्मों से प्रभावित होने वाले लोगों को बेवकूफ बनाने के लिए कई लोग ऐसा दावा करते हैं कि उनके पास ऐसे उत्पाद हैं जिनसे कि लिंग (penis) की लम्बाई बढ़ सकती है। ऐसा एंलार्जर तथा एक्सटेंडर की मदद से किया जाता है। अगर लिंग का आकार सही नहीं होता तो लोग अपनी मर्दानगी (manhood)को लेकर भी शक करने लगते हैं। अपने लिंग को देखकर बहुत से पुरुषों को ये लगता है कि इसका आकार सही नहीं है। यह एक बिलकुल गलत धारणा है और इससे मर्दों को केवल तकलीफ ही होती है।

लिंग के आकार के कुछ तथ्य (The details on the size of penis in men)

मर्दों में लिंग लम्बा होने पर इसकी लम्बाई 12 से 16 सेंटीमीटर तक हो सकती है। अगर आपको BMI की समस्या है और आपकी उम्र बढ़ गयी है तो आपका गुप्तांग पूरी तरह इरेक्ट नहीं होता और इसकी लम्बाई कम रहती है। इसी का फायदा कई लोग उठाते हैं। एक शोध के अनुसार कई मर्द अपने गुप्तांग (penis) के आकार को सही नहीं मानते और अपनी मर्दानगी पर शक करते हैं।

लिंग के आकार के आंकलन का सत्य (The Accuracy of the Penis Measurement)

पुरुषों के गुप्तांगों के आकार का पता अच्छी प्रकार नापने से ही चल पाता है। कामुकता बढ़ने की स्थिति में इसके आकार में भिन्नता आ सकती है। यह आकार कई और चीज़ों पर भी निर्भर करता है, जैसे दिन का समय, कमरे का तापमान, सेक्स का स्तर और नापने के यंत्र की कुशलता। अगर आप गोरिल्ला जैसे प्राइमेट्स से पुरुषों के गुप्तांग की तुलना करें तो आप पाएंगे कि पुरुषों के गुप्तांग(penis) की मोटाई सबसे ज़्यादा होती है।

लिंग की बढ़त (The growth of the penis)

हालांकि अलग अलग सूत्रों से नापने की पद्दति अपनाने से परिणाम भिन्न हो सकते हैं। अगर आप इसकी लम्बाई खुद नापते हैं तो यह कुछ बताएगा और किसी अन्य व्यक्ति को नापने के लिए कहें तो यह नाप कुछ और होगा। बचपन से ही गुप्तांग का बढ़ना शुरू हो जाता है और 5 साल तक बढ़ता है। लेकिन कई मामलों में यह एक वर्ष की उम्र से शुरू होकर प्यूबर्टी तक बढ़ता है। किसी पुरुष के 17 वर्ष की आयु के हो जाने तक गुप्तांग (penis) की लम्बाई बढ़ती है।

लिंग का आकार (The comparative size of the penis)

हालांकि शोध के अनुसार आप गुप्तांग (penis) के आकार का सम्बन्ध शरीर के किसी अन्य भाग से नहीं पाएंगे। ऐसे कई कारण हैं जिनकी वजह से मनुष्यों में गुप्तांगों की बढ़त प्रभावित होती है। पर्यावरण के कारक इसके लिए ज़िम्मेदार हो सकते हैं और कई बार जेनेटिक कारण भी गुप्तांगों के बढ़ने को प्रभावित करते हैं। गुप्तांगों का बढ़ना एंडोक्रिन डिसराप्टर्स की मौजूदगी से भी प्रभावित होती है। ऐसे कई और कारक हैं जो इसकी बढ़त में प्रभाव डालते हैं। अगर एक वयस्क व्यक्ति के गुप्तांग का आकार इरेक्ट अवस्था में 7 सेंटीमीटर है तो ऐसे गुप्तांग में विज्ञान जगत में “माइक्रो पेनिस” कहा जाता है।

छोटा लिंग होने का कारण (The reason for the small size of the penis)

लिंग का छोटा आकार PCB तथा प्लास्टीसाईसर DEHP से सम्बंधित होता है। DEHP के मेटाबोलाइट्स, जो कि गर्भवती महिला के मूत्र से नापे जाते हैं, पुरुषों के लिंग छोटे होने की समस्या से जुड़े होते हैं। एक शोध के मुताबिक़ यह पाया गया है कि कई हार्मोनल थेरेपीज़ की वजह से भी लिंग (penis) का आकार छोटा होता है। लिंग का आकार एस्ट्रोजन आधारित फर्टिलिटी औषधि के सेवन से भी कम होता है। इस दवाई को लेने से असमानता उत्पन्न होती है और इसके फलस्वरूप लिंग छोटा हो जाता है।

मर्दों की अपने लिंग से जुड़ी सोच (The male perception of penis)

मर्द आमतौर पर अपने लिंग को सामान्य से छोटा ही समझते हैं। उन्हें हमेशा यह लगता है कि उनके गुप्तांग का आकार सही नहीं है। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि वे गलत नज़रिये से अपने लिंग (penis) को देखते हैं। देखने के नज़रिये में गड़बड़ होने की वजह से उन्हें अपना लिंग छोटा लगता है।

दुनिया भर के पुरुषों के लिंग का औसत आकार

रिपब्लिक ऑफ कांगो – 7.1 इंच| इक्वाडोर- 7 इंच| घाना – 6.8 इंच| कोलंबिया – 6.7 इंच| आइसलैंड – 6.5 इंच| इटली – 6.2 इंच| दक्षिण अफ्रीका – 6 इंच| स्वीडन – 5.9 इंच| ग्रीस – 5.8 इंच| जर्मनी – 5.7 इंच| न्यूजीलैंड – 5.5 इंच| ब्रिटेन – 5.5 इंच| कनाडा – 5.5 इंच| स्पेन – 5.5 इंच| फ्रांस – 5.3 इंच| ऑस्ट्रेलिया – 5.2 इंच| रूस – 5.2 इंच| यूएसए – 5.1 इंच| आयरलैंड – 5 इंच| रोमानिया – 5 इंच| चीन- 4.3 इंच| भारत – 4 इंच| थाइलैंड – 4 इंच| दक्षिण कोरिया – 3.8 इंच| उत्तर कोरिया – 3.8 इंच

loading...

Check Also

male females sex organs

स्त्री-पुरुष के सेक्स से संबंधित अंग और उनकी जानकारी

प्रकृति ने सभी कार्य को ठीक ढंग से पूरा करने के लिए किसी न किसी …

Leave a Reply

Your email address will not be published.

loading...